लीबिया : न्‍यू घाट हवाईअड्डा परियोजना

ग्राहक

लीबिया सरकार

परामर्शदाता

इतालकन्‍सल्‍ट, इटली

लागत

70.20 मिलियन अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ

जनवरी, 1976

समापन

अप्रैल, 1979

600 मीटर x 45 मीटर के मुख्‍य रनवे का निर्माण; 1500 मीटर x 30 मीटर के सेकंडरी रनवे का निर्माण; 3700 मीटर x 30 मीटर के समानांतर टैक्‍सीवे का निर्माण एप्रन (02) 200 मीटर x 100 मीटर, जन सूचना प्रणाली, एयर फील्‍ड लाइटिंग, पेरिफेरल रोड, आंतरिक रोड एवं एयर फोर्स कैम्‍प सहित टर्मिनल एवं अन्‍य भवन का निर्माण की व्‍यवस्‍था होगी। इस स्‍थल की प्रतिकूल भौगोलिक स्थिति ने विशाल मरूस्‍थलीय क्षेत्र में निर्माण मशीनरी एवं सामग्री की आवाजाही के लिए संभारतंत्रीय (लॉजिस्टिक्‍स) समस्‍याएं प्रस्‍तुत की तथा भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण के इंजीनियर इन समस्‍याओं को दूर करने में सफल रहे।

 

इस कार्य को रिकार्ड समय में पूरा किया गया। ''घाट एयरपोर्ट परियोजना’’ की योजना, निष्‍पादन एवं कार्य की गुणवत्‍ता से लीबिया के प्राधिकारी इतना संतुष्‍ट थे कि उन्‍होंने निविदा आमंत्रित करने का सहारा लिए बगैर भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण को बराट परियोजना सौंप दी।

 

लीबिया : बराक एयरपोर्ट चरण - I

ग्राहक

लीबिया सरकार

परामर्शदाता

इतालकन्‍सल्‍ट, इटली

लागत

25.17 मिलियन अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ 

जून, 1978

समापन

अप्रैल, 1982

2500 मीटर x 30 मीटर के मुख्‍य रनवे 960 मीटर x 30 मीटर के समानांतर टैक्‍सीवे, एयरक्राफ्ट पार्किंग एप्रन, पावर हाउस भवन, पेरिफेरल सड़कों तथा चेन लिंक फेंसिंग का निर्माण। इस स्‍थल की प्रतिकूल भौगोलिक स्थिति ने विशाल मरूस्‍थलीय क्षेत्र में निर्माण मशीनरी एवं सामग्री की आवाजाही के लिए संभारतंत्रीय (लॉजिस्टिक्‍स) समस्‍याएं प्रस्‍तुत की तथा भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण के इंजीनियर इन समस्‍याओं को दूर करने में सफल रहे।

लीबिया : बराक एयरपोर्ट चरण - II

ग्राहक

लीबिया सरकार

परामर्शदाता

इतालकन्‍सल्‍ट, इटली

लागत

41.60 मिलियन अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ

जून, 1982

समापन

अप्रैल, 1985

1350 मीटर x 45 मीटर का रनवे का विस्‍तार; 1600 मीटर x 30 मीटर का सेकेंडरी रनवे, 2600 मीटर लंबे समानांतर टैक्‍सीवे विस्तार, पार्किंग एप्रन, आतंरिक सड़कों, चेन लिंक फेंसिंग आदि का निर्माण।

यमन रियान एयरपोर्ट

ग्राहक

यमन गणराज्‍य

परामर्शदाता

कॉक्‍स जी एम बी एच, जर्मनी

लागत

25.69 मिलियन अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ

नवंबर, 1979

समापन

मई, 1982

रनवे, लिंक टैक्‍सीवे, एप्रन, टर्मिनल भवन, कार्गो एवं अन्‍य सहायक भवनों का निर्माण जिसमें बल्‍क सर्विस, एयर फील्‍ड लाइटिंग आदि शामिल हैं। कार्य को समय पर पूरा करने के लिए प्‍लांट एवं मशीनरी सहित सी‍मेंट, बिटुमन आदि जैसी निर्माण सामग्रियों को नौकाओं से पहुंचाया गया। नवीनतम उपकरण एवं मशीनरी का उपयोग करके भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण द्वारा अपने घरेलू  संसाधनों के माध्यम से संपूर्ण परियोजना को निष्‍पादित किया गया। परियोजना की लागत को निर्धारित सीमा के अंदर रखने के लिए बड़े पैमाने पर स्‍थानीय रूप से उपलब्‍ध सामग्रियों का प्रयोग किया गया।

यमन अलगिदा एयरपोर्ट

ग्राहक

यमन गणराज्‍य

परामर्शदाता

कॉक्‍स जी एम बी एच, जर्मनी

लागत

23.64 मिलियन अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ

जून, 1983

समापन

दिसंबर, 1986

रियान एयरपोर्ट परियोजना के सफलतापूर्वक पूरा हो जाने के बाद यमन सरकार ने अलगिदा एयरपोर्ट के लिए भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण को परामर्श ठेका दिया और इसके बाद निर्माण का ठेका दिया। इस परियोजना में रनवे, लिंक टैक्‍सीवे, एप्रन, प्रशासनिक ब्‍लाकों, टर्मिनल एवं अन्‍य सहायक भवनों का निर्माण शामिल था। प्‍लांट एवं मशीनरी समेत सीमेंट, बिटुमन जैसी निर्माण सामग्रियों को समुद्री मार्ग से मंगाने की जरूरत थी।

अल्‍जीरिया : बटना एयरपोर्ट

ग्राहक

अल्‍जीरिया गणराज्‍य

परामर्शदाता

भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण

लागत

0.51 मिलियन अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ

जून, 1982

समापन

दिसंबर, 1984

यह बटना, अल्‍जीरिया में एयरपोर्ट के विकास के लिए परामर्शी परियोजना थी। कार्य के दायरे में विस्‍तृत आवीक्षण तैयार करना, स्‍थलाकृतिक सर्वेक्षण करना, जल विज्ञानी जांच करना, एयरपोर्ट मास्‍टर प्‍लान का विकास करना तथा विस्‍तृत इंजीनियरिंग ड्राइंग तैयार करना, एयर फील्‍ड पेवमेंट की डिजाइन तैयार करना, भूमि में सुधार के लिए फाउंडेशन इंजीनियरिंग, ड्रेनेज सिस्‍टम का डिजाइन तैयार करना, एयर फील्‍ड लाइटिंग एवं विजुअल ऐड सिस्‍टम का डिजाइन तैयार करना शामिल था। इसके अलावा इसमें एयर साइड में प्रचालन सड़क की डिजाइन तैयार करना और सिटी साइड में ट्रैफिक परिचालन सिस्‍टम, रोड एवं पार्किंग एरिया की डिजाइन तैयार करना भी शामिल था। मात्रा बिल, लागत अनुमान एवं निविदा दस्‍तावेज भी तैयार करना था। कार्य के दायरे में दिक्‍चालन सहायता एवं ईंधन फार्म की योजना भी शामिल थी।

अल्‍जीरिया : सेतिफ एयरपोर्ट

ग्राहक

अल्‍जीरिया गणराज्‍य

परामर्शदाता

भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण

लागत

1.10 मिलियन अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ

जून, 1982

समापन

दिसंबर, 1984

यह सेतिफ अल्‍जीरिया में एयरपोर्ट के विकास के लिए परामर्शी परियोजना थी। कार्य के दायरे में विस्‍तृत आवीक्षण तैयार करना, स्‍थलाकृतिक सर्वेक्षण करना, जल विज्ञानी जांच करना, एयरपोर्ट मास्‍टर प्‍लान का विकास करना तथा भूमि सुधार के लिए विस्‍तृत इंजीनियरिंग तैयार करना, ड्रेनेज सिस्‍टम का डिजाइन तैयार करना, एयर फील्‍ड लाइटिंग एवं विजुअल ऐड सिस्‍टम का डिजाइन तैयार करना शामिल था। इसके अलावा इसमें एयर साइड में प्रचालन सड़क की डिजाइन तैयार करना और सिटी साइड में ट्रैफिक परिचालन सिस्‍टम, रोड एवं पार्किंग एरिया की डिजाइन तैयार करना भी शामिल था। मात्रा बिल, लागत अनुमान एवं निविदा दस्‍तावेज भी तैयार करना था। कार्य के दायरे में दिक्‍चालन सहायता, संचार सहायता एवं ईंधन फार्म की योजना भी शामिल थी।

मालदीव : हुलुले एयरपोर्ट

ग्राहक

मालदीव सरकार

परामर्शदाता

कॉक्‍स जी एम बी एच, जर्मनी

लागत

11.00 मिलियन अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ

अप्रैल, 1978

समापन

नवंबर, 1981

रनवे का विस्‍तार एवं पुन: सतहीकरण, एप्रन, टर्मिनल भवन, कंट्रोल टावर, ईंधन टैंक, जलापूर्ति, ड्रेनेज एवं सीवेज सुविधाओं आदि का निर्माण। निर्माण कार्य कठिन संभार तंत्र एवं प्रतिकूल जलवायु की परिस्थितियों में पूरा किया गया। इसके अलावा, भवन सामग्री एवं मशीनरी को भी समुद्री मार्ग से मंगाना  पड़ा। रनवे का विस्‍तार मूंगा आधारित परिष्‍कृत भूमि पर करना था।

यमन : अल्‍गैदा एयरपोर्ट

ग्राहक

यमन गणराज्‍य

परामर्शदाता

भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण

लागत

23.64 मिलियन अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ

अप्रैल, 1981

समापन

जुलाई, 1986

रनवे, लिंक टैक्‍सीवे, एप्रन, प्रशासनिक ब्‍लाकों टर्मिनल एवं अन्‍य सहायक भवनों की डिजाइन के लिए परामर्शी सेवा। डिजाइन के लिए प्रस्‍तुत इस परामर्शी परियोजना को अंतत: यमन गणराज्‍य द्वारा एयरपोर्ट के विकास के लिए टर्न की परियोजना में परिवर्तित किया गया।

नौरू : रनवे के विस्‍तार के लिए डिजाइन/दस्‍तावेज तैयार करना

ग्राहक

नौरू गणराज्‍य

परामर्शदाता

भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण

लागत

96,000 अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ

जनवरी, 1982

समापन

जनवरी, 1983

एयरपोर्ट पर मौजूद सुविधाएं बड़े एयरक्राफ्ट के सुरक्षित प्रचालन के लिए पर्याप्‍त नहीं थी और इसलिए उथले समुद्र से परिष्‍कृत जमीन पर रनवे का विस्‍तार करने की जरूरत थी। 



कार्य के दायरे में दो घटक शामिल थे :

  • पहला भाग अपेक्षाओं का अध्‍ययन करने, आर्मर वाल की डिजाइन तैयार करने तथा विस्‍तार के लिए रनवे के पेवमेंट की डिजाइन तैयार करने से संबंधित था।
  • दूसरा भाग दस्‍तावेजों को तैयार करने से संबंधित था जिसमें नौरू सरकार द्वारा परियोजना के कार्यान्‍वयन के लिए निविदा आदि आमंत्रित करने के लिए मात्रा बिल तैयार करना शामिल था।

मॉरीशस : प्‍लेसांस एयरपोर्ट का सुधार एवं आधुनिकीकरण

ग्राहक

मॉरीशस सरकार  

परामर्शदाता

भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण

लागत

40,000 मिलियन अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ

मार्च, 1984

समापन

मार्च, 1986

 

भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण ने मारीशस में प्‍लेसांस एयरपोर्ट के सुधार एवं आधुनिकीकरण के लिए संभाव्‍यता अध्‍ययन किया, जिसमें एयर फील्‍ड पेवमेंट, एयर फील्‍ड लाइटिंग शामिल थी तथा रिपोर्ट के स्‍वीकृत होने पर भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण ने परियोजना स्‍कीम के निर्माण/कार्यान्‍वयन के दौरान निष्‍पादन एजेंसी को सलाह/परामर्श प्रदान करने के लिए सिविल एवं विद्युत इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अपने विशेषज्ञों को प्रतिनियुक्‍त किया।

 

 

तंजानिया : माफिया एयरपोर्ट

ग्राहक

तंजानिया सरकार

परामर्शदाता

भारतीय विमानपत्‍तन प्राधिकरण

लागत

0.016 मिलियन अमरीकी डॉलर

प्रारम्‍भ

अप्रैल, 1981

समापन

जुलाई, 1982

इस परियोजना में रिपोर्ट, विस्‍तृत इंजीनियरिंग ड्राइंग एवं अन्‍य संबद्ध दस्‍तावेज तैयार करने सहित विकास कार्य शामिल था।

 

 

 

आखिरी बार अपडेट करने की तारीख : 18 नवंबर, 2010