निदेशालय का लक्ष्य निम्नलिखित का अनुकरण कर संगठन की कार्यक्षमता बेहतर बनाना है :

  • गुणवत्ता पर ध्यान केन्द्रित करना,उसे निरंतर और बेहतर बनाना तथा निर्णय लेते समय /परस्पर  विचारो के आदान प्रदान के समय  पूरे घटनाक्रम को ध्यान में रखना ।
  • कार्मिकों को सामान्य अनियमितताओं,भ्रष्टाचार, कदाचारों तथा इनकी रोकथाम हेतु जांच पड़ताल संबंधी विभिन्न विषयों की जानकारी देना।
  • भ्रष्टाचार के अवसर प्रदान करने वाले मौजूदा कारणों की पहचान करना और उन्हें  हटाने के लिए कार्रवाई करना ।
  • लेशमात्र भी भ्रष्टाचार सहन न करने की शक्ति प्राप्त करने हेतु प्रयासरत रहना ।
  • ईसीडीए नियमों एवं विनियमों तथा  निर्धारित प्रक्रियाओं एवं कार्यप्रणालियों को ध्यान  में रखते हुए कार्मिकों  द्वारा सत्यनिष्ठा के संबंध में कड़ा अनुपालन सुनिश्चित करना ।
  • पारदर्शिता एवं उत्तरदायित्व की भावना को उत्पन्न करना ।
  • निष्कपट एवं नीतिपरक कार्य संस्कृति को विकसित करना व उसे कायम रखना; तथा दुर्भावपूर्ण कार्यप्रकृति अपनाने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध प्रभावी एवं त्वरित दंडात्मक कार्रवाई सुनिश्चित करना ।

संक्षेप में सतर्कता निदेशालय का लक्ष्य भ्रष्टाचार उन्मुक्त परिवेश का सृजन करना है जो  भाविप्रा के उद्देश्य  और ध्येय की प्राप्ति की दिशा में प्रत्येक कार्मिक के द्वारा उच्च स्तरीय   निष्पादन हेतु प्रेरक सिद्ध हो ।